Kavach Technique का सफल परीक्षण। अब मंत्री जी खुद कर रहे ये काम

TTH News Staff 1
0 0
Read Time:3 Minute, 22 Second

आज भारतीय रेलवे के इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ गया। भारतीय रेलवे ने एक ऐसी Kavach Technique तकनीक का परीक्षण किया है जिससे आने वाले समय में रेलवे में होने वाली दुर्घटनाओं में कमी होगी। ये खबर आज के समाज को जानना इसीलिए भी जरूरी हो जाता है क्युकी इस तकनीक के परीक्षण के दौरान भारत के रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव और भारतीय रेलवे बोर्ड के चेयरमैन मौजूद थे।

Indian Railway लगातार जीरो एक्सीडेंट के लक्ष्य की ओर बढ़ रही है। जिसके फलस्वरूप आज दो ट्रेनों के बीच System Failure से होने वाली टक्कर से निजात पाने के लिए सुरक्षा प्रणाली (Kavach Technique) का परीक्षण सफल हुआ।

अगर दो ट्रेन विपरीत दिशा से एक-दूसरे की तरफ आ रही हैं, चाहे वो कितनी भी तेज गति से आ रही हो फिर भी वो Kavach Technique की वजह से आपस में नहीं टकराएंगी।

Over speeding रोकना,फाटकों के पास पहुंचने पर Horn बजाना, emergency में SOS मैसेज भेजना यह सब Kavach Technique Automatic रूप से करेगा।इस सुरक्षा कवच के आ जाने से उम्मीद है कि ठंड में मौसम में घने कोहरे की वजह से होने वाले दुर्घटनाओं में कमी आयेगी।

आज के दिन इस परीक्षण में दो ट्रेनों को आमने-सामने चलाया गया, जिसमें एक ट्रेन में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव खुद मौजूद थे और दूसरी ट्रेन में Railway board के Chairman के साथ अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

जिस ट्रेन में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव सवार थे, वह ट्रेन सामने से आ रही ट्रेन से 380 मीटर पहले ही automatically सुरक्षा कवच प्रणाली के लगे होने की वजह से रुक गई। यह जानकारी मिनिस्ट्री ऑफ़ रेलवे ने खुद ट्वीट करके बताई।

आपको बता दें कि भारतीय रेलवे इस समय जीरो एक्सीडेंट के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए एक ऐसे कवच तकनीक पर काम कर रही है जिससे दो ट्रेनों के मध्य होने वाले टकराव को रोका जा सकता है। इस बार के केंद्रीय बजट में भी इस तकनीक को लेकर घोषणा की गई थी। प्रधानमंत्री मोदी जी के आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत 2000 किलोमीटर के रेलवे नेटवर्क को भी कवच तकनीक के अंदर लाने का लक्ष्य रखा गया है। दक्षिण मध्य रेलवे की चल रही परियोजनाओं में कवच को 1098 किलोमीटर से अधिक मार्ग और 65 इंजनों पर लगाया जा चुका है इस कवच को दिल्ली मुंबई और दिल्ली हावड़ा कॉरिडोर पर लागू करने की भी योजना है जिसका कुल रूट लगभग 3000 किलोमीटर है।

About Post Author

TTH News Staff

Official Account Of TTH News The Times Of Hind .The TTH NEWS is a small, but widely renowned and celebrated YOUTUBE CHANNEL established in 2018. It provides commentary on politics, the environment, and cultural Activities. The publication’s online platform features a stark design and uncomplicated navigation, which allows the publication’s thought-provoking content to take center-stage. It doesn’t bother with flashy visual gimmicks to attract clicks because the New Republic knows who its target audience is.
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Author Profile

TTH News Staff
TTH News Staff
Official Account Of TTH News The Times Of Hind .The TTH NEWS is a small, but widely renowned and celebrated YOUTUBE CHANNEL established in 2018. It provides commentary on politics, the environment, and cultural Activities. The publication’s online platform features a stark design and uncomplicated navigation, which allows the publication’s thought-provoking content to take center-stage. It doesn’t bother with flashy visual gimmicks to attract clicks because the New Republic knows who its target audience is.
Share this

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

One thought on “Kavach Technique का सफल परीक्षण। अब मंत्री जी खुद कर रहे ये काम

Comments are closed.

Next Post

Kunal Kamra ने फिर किया कोर्ट के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी, Adv Ashutosh Dubey ने लिखा CJI को पत्र

Adv. Ashutosh Dubey ने स्टैंड अप कॉमेडियन Kunal Kamra के खिलाफ आपराधिक अवमानना ​​​​शुरू करने के लिए भारत के मुख्य न्यायाधीश CJI को एक पत्र लिखा गया है, जो अपने एक नए वीडियो जिसका शीर्षक “BE LIKE ” था, उसमे सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ कथित अपमानजनक टिप्पणी किया था. Adv. […]

You May Like

Subscribe US Now